Sunday, October 2, 2022
Homeउत्तर प्रदेश14 से 17 अप्रैल तक का दिन विशेष है, इन दिनों में...

14 से 17 अप्रैल तक का दिन विशेष है, इन दिनों में हैं रोज कोई न कोई पर्व : 14 to 17 April is festivals every day 

14 से 17 अप्रैल तक का दिन विशेष है। इन चार दिन में रोज कोई न कोई पर्व है। पर्व का सिलसिला 14 से शुरू हो रहा है। चार दिनों में सात पर्व मनाए जाएंगे।

इंडिया न्यूज, प्रयागराज:

14 to 17 April is festivals every day   14 से 17 अप्रैल तक का दिन विशेष है। इन चार दिन में रोज कोई न कोई पर्व है। पर्व का सिलसिला 14 से शुरू हो रहा है। चार दिनों में सात पर्व मनाए जाएंगे। इन दिनों के बीच मुस्लिमों का माहे रमजान का दूसरा जुमा भी पड़ेगा, जो अत्यंत पवित्र माना जाता है। उत्सव के नजरिए से 14 अप्रैल ज्यादा खास है। इसमें एक ही दिन में कई महत्वपूर्ण पर्व मनाए जाएंगे। उक्त तारीख को जैन धर्मावलंबी अपने 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर की जयंती मनाएंगे। जैन मंदिरों में विशेष पूजन व अनुष्ठान होगा। भगवान महावीर की भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी।

पवित्र बैसाखी 14 को है 14 to 17 April is festivals every day

सिख धर्म को मानने वाले लोगों का अत्यंत पवित्र बैसाखी पर्व 14 अप्रैल को मनाया जाएगा। बैसाखी पर ही गुरु गोविंद सिंह जी ने पंच प्यारों को अमृत पान कराया था। फिर उनके हाथों से स्वयं अमृत पान करके खासला पंथ का स्थापना किया था। इसी कारण सिखों के लिए ये अत्यंत पवित्र दिन माना जाता है। बैसाखी पर गुरुद्वारा में श्रीगुरुग्रंथ साहिब का पाठ करने के साथ शबद-कीर्तन किया जाएगा। इसके अलावा 14 अप्रैल को मसीही समुदाय के लोग मोंटी थर्सडे का पर्व मनाएंगे। इसी दिन सनातन धर्मावलंबियों का खरमास खत्म होगा। खरमास खत्म होने पर शादी-विवाह सहित समस्त शुभ कार्य आरंभ हो जाएंगे।

15 अप्रैल को मां काली की पूजा होगी 14 to 17 April is festivals every day

बंगाली समुदाय के लोगों का नया वर्ष इसी दिन शुरू होगा। बंगाली लोग सुबह शंखवादन करके नए वर्ष का स्वागत करेंगे। घरों में मां काली की पूजा होगी। इसके बाद 16 अप्रैल को सनातन धर्मावलंबी संकटमोचन हनुमान जी का प्राकट्य उत्सव मनाएंगे। हनुमान मंदिरों में दिनभर भजन-कीर्तन व अनुष्ठान चलेगा।

गुड फ्राइडे मनाया जाएगा 14 to 17 April is festivals every day

15 अप्रैल को मसीही समुदाय के लोग गुड फ्राइडे का पर्व मनाएंगे। 17 अप्रैल को मसीही समुदाय के लोग ईस्टर का पर्व मनाएंगे। प्रभु यीशु मसीह के पुन: जीवित होने की खुशी में चर्चों में बाइबिल का पाठ करके खुशियां मनाई जाएगी।

Also Read : किसान का शव गांव के बाहर टुकड़ों में मिला, एक दिन पहले खेत से हुआ था लापता

Connect With Us : Twitter Facebook

 

SHARE
Asheesh Shrivastava
Asheesh Shrivastava
I'm Asheesh Shrivastava, Staff reporter at INDIA NEWS
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular