Tuesday, September 27, 2022
Homeउत्तर प्रदेशKanpur Bikru Scandal : दो साल बाद शहीद दरोगा की पत्नी को...

Kanpur Bikru Scandal : दो साल बाद शहीद दरोगा की पत्नी को मिली नौकरी, ओएसडी बनीं

इंडिया न्यूज, लखनऊ 

Kanpur Bikru Scandal : कानपुर बिकरू कांड के दो साल बाद शहीद दरोगा अनूप सिंह की पत्नी को नौकरी मिल गई है। उनको विशेष कार्य अधिकारी (ओएसडी) के रूप में लखनऊ स्थित पुलिस मुख्यालय में तैनात किया गया है। अनूप सिंह दो जुलाई, 2020 की रात चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में कुख्यात विकास दुबे और उसके साथियों के साथ हुई मुठभेड़ में शहीद हो गए थे। (Kanpur Bikru Scandal)

 

सीएम ने जल्द नियुक्ति का भरोसा दिलाया था (Kanpur Bikru Scandal)

अनूप सिंह की पत्नी नीतू सिंह तब से नौकरी पाने के लिए संघर्ष कर रही थीं। उन्होंने तीन जुलाई को मुख्यालय में ज्वाइन कर लिया है। नीतू की बेटी गौरी कक्षा छह व बेटा सूर्यांश यूकेजी में पढ़ता है। उनके परिवार में ससुर, देवर, जेठ-जेठानी हैं। नीतू सिंह का कहना है कि नौकरी से उनको बहुत ही राहत मिलेगी। शहीदों के परिवार वालों ने आवास दिलाने की भी मांग की थी, जो अब तक पूरी नहीं हुई है। इसलिए नीतू लखनऊ के एक होटल में कमरा लेकर रह रही हैं। इससे कुछ दिन पहले ही अनूप के परिजनों ने मुख्यमंत्री से नौकरी दिलाने की गुहार की थी। तब सीएम ने उन्हें जल्द ही नियुक्ति का भरोसा दिलाया था।

 पहली पोस्टिंग कानपुर में  (Kanpur Bikru Scandal)

प्रतापगढ़ के मांधाता थाना क्षेत्र के बेलखरी निवासी अनूप सिंह ने 2004 में पुलिस फोर्स ज्वाइन किया था। 2015 में दरोगा बने। ट्रेनिंग के बाद दरोगा पद पर उनकी पहली पोस्टिंग कानपुर में 2017 में बाबूपुरवा थाने में हुई। फिर टिकरा चौकी के बाद चौबेपुर में तैनाती मिली थी।

(Kanpur Bikru Scandal)

यह भी पढ़ेंः शिंदे सरकार के भविष्य पर फैसला आज, 16 विधायकों की अयोग्यता पर होगा सुप्रीम फैसला

Connect With Us : Twitter | Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular