Thursday, May 19, 2022
Homeउत्तर प्रदेशConflict between two communities in Meerut : कब्रिस्तान की जमीन डाक्टर की...

Conflict between two communities in Meerut : कब्रिस्तान की जमीन डाक्टर की बताने पर भाजपा नेताओं को दौड़ाकर पीटा

Conflict between two communities in Meerut

Conflict between two communities in Meerut

इंडिया न्यूज, मेरठ :
Conflict between two communities in Meerut मेरठ (Meerut) के कंकरखेड़ा में कब्रिस्तान में शव दफनाने को लेकर उस समय बवाल हो गया जब भाजपा नेताओं ने कब्रिस्तान की जमीन को चिकित्सक की बता दी। इससे समुदाय विशेष के लोग आक्रोशित हो गए। उन्होंने भाजपा (BJP) नेता दुष्यंत रोहटा, हिंदू जागरण मंच के अध्यक्ष सचिन सिरोही और उनके कार्यकतार्ओं को पुलिस के सामने ही लोगों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। हमले में भाजपा नेता नवाब सिंह लखवाया गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना पर एसपी सिटी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने भाजपा नेताओं को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी।

ऐसे हुआ विवाद

कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र की नंगलाताशी गांव निवासी खेरु निशां (40) पत्नी यूसुफ की गुरुवार को मौत हो गई थी। महिला के परिजनों ने शव दफनाने के लिए डिफेंस एंक्लेव डबल स्टोरी के पास कब्रिस्तान वाली भूमि पर कब्र खोदी। पास में ही मेरठ विकास प्राधिकरण की भूमि है, जिसको लक्ष्य हॉस्पिटल के मालिक डॉ. सागर तोमर ने खरीदा था। कब्र खोदने की सूचना पर सागर तोमर और उनके पिता सुधीर तोमर मौके पर पहुंचे।
उन्होंने मेरठ विकास प्राधिकरण से 1193 मीटर भूमि खरीदी थी और मृतक के परिजनों से कब्रिस्तान की भूमि में कब्र खोदने की बात कही। इससे विवाद होने लगा। उसी समय डॉक्टर पक्ष से भाजपा नेता दुष्यंत रोहटा, नवाब सिंह लखवाया और सचिन सिरोही, संजय वर्मा भी मौके पर पहुंच गए। आरोप है कि यूसुफ पक्ष के लोगों ने भाजपा नेताओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटना शुरू कर दिया।

पुलिस के सामने ही दुष्यंत रोहटा, नवाब सिंह लखवाया के कपड़े फाड़ दिए। पुलिस ने किसी तरह उनको बचाने का प्रयास किया, लेकिन लोगों की संख्या ज्यादा होने के चलते पुलिस काबू नहीं कर सकी। एसपी सिटी विनीत भटनागर मौके पर पहुंचे। लोगों ने शव सुपुर्द-ए-खाक कर दिया।

Read Also : Police Closed Moradabad Farrukhabad Highway : बदायूं कोल्ड में अमोनिया गैस का रिसाव

हिंदू संगठन का देर रात थाने पर हंगामा

भाजपा नेताओं को पीटने के मामले में देर रात हिंदू संगठन ने कंकरखेड़ा थाने में हंगामा किया। आरोप है कि पुलिस के सामने ही भाजपा नेताओं को पीटा गया और वह तमाशबीन बनकर देखती रही। मारपीट करने वाले दूसरे समुदाय के लोगों पर कार्रवाई की मांग की। पुलिस ने दोनों पक्षों पर कार्रवाई करने की बात कही है।

Read Also : Three Feet full of Water in Meerut Mall : शॉप्रिक्स मॉल में चिलर प्लांट फटा, भगदड़ मची

Read More : IIT Kanpur Professor Claims : 22 जून से कोरोना की चौथी लहर, अगस्त में आएगा पीक

Also Read : Covid 19 Vaccination In India विशेषज्ञों की राय पर निर्भर करेगा 15 तक की उम्र के बच्चों का टीकाकरण

Connect With Us : Twitter Facebook

 

 

SHARE
Ajay Dubey
India News Senior Sub Editor. Danik jagran & Amarujala as a City & Crime Reporter 15 Years.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular