Saturday, May 28, 2022
Homeउत्तर प्रदेशEmbezzlement of Rs 2 crore 90 Lakh in Electricity Department in Lucknow...

Embezzlement of Rs 2 crore 90 Lakh in Electricity Department in Lucknow : एक एसडीओ और बाबू बर्खास्त, 100 फीसदी पेंशन रोकी

इंडिया न्यूज, लखनऊ ।

 Embezzlement of Rs 2 crore 90 Lakh in Electricity Department in Lucknow : लखनऊ में बिजली विभाग में गलत कनेक्शन पर कार्रवाई का सिलसिला लगातार जारी है। शुक्रवार देर रात विभाग के एक एसडीओ और बाबू को बर्खास्त कर दिया गया। आरोप है कि गलत तरीके से कनेक्शन देने के बाद दोनों ने मिलकर 2 करोड़ 90 लाख रुपए का गबन किया है। हालांकि जांच रिपोर्ट आने तक बाबू रिटायर हो चुका है। ऐसे में अब उसका 100 फीसदी पेंशन भी रोक दिया गया है। मामला साल 2016 का है। गलत तरीके से कनेक्शन दिया गया था, उसकी जांच चल रही थी, अब रिपोर्ट आने के बाद विभाग की तरफ से यह सख्त कार्रवाई की गई है। ( Embezzlement of Rs 2 crore 90 Lakh in Electricity Department in Lucknow )

उप खंड अधिकारी (एसडीओ) राहुल मित्तल को बर्खास्त कर दिया गया है। वहीं इस मामले में रिटायर हो चुके कार्यालय सहायक नत्थी प्रसाद की पेंशन से 100 फीसदी कटौती करने के आदेश दिए हैं। सूत्रों का कहना है कि दोनों ही आरोपियों से गबन की गई राशि का पैसा लिया जाएगा। इसमें पीएफ से लेकर पेंशन और वेतन की कटौती की जाएगी। गड़बड़ी का खेल लेसा में अस्थायी कनेक्शन देने के दौरान किया गया था। वृंदावन योजना में कई बड़े बिल्डर का प्रोजेक्ट चल रहा है। उसी में यह खेल किया गया है। ( Embezzlement of Rs 2 crore 90 Lakh in Electricity Department in Lucknow )

बड़े स्तर पर गड़बड़ी की गई ( Embezzlement of Rs 2 crore 90 Lakh in Electricity Department in Lucknow )

अस्थायी कनेक्शन देने के मामले में लखनऊ में भी बड़े स्तर पर गड़बड़ी की गई थी। लेसा इंजीनियरों के खिलाफ इसकी जांच चल रही थी। इसमें सबसे ज्यादा खेल चिनहट और वृंदावन योजना में हुआ था। अब इस जांच की रिपोर्ट आ गई है। इसकी रिपोर्ट पावर कॉरपोरेशन प्रबंधन को सौंप दी गई है। इस मामले में भी कई इंजीनियरों पर कार्रवाई हो सकती है। बताया जा रहा है कि वृंदावन और चिनहट डिवीजन में ही गड़बड़ी सबसे ज्यादा मिली है। इस मामले में जल्द बड़ी कार्रवाई होगी। पावर कॉर्पोरेशन एमडी एम देवराज बड़ी कार्रवाई कर रहे हैं। इससे पहले 5 साल या उससे ज्यादा समय से गायब रहने वाले 56 जेई की नौकरी भी छीन ली गई है। सभी लोगों को बर्खास्त कर दिया गया है। हालांकि इससे विभाग में नौकरी के अवसर आएंगे। अब उन जेई की जगह पर दूसरी बहाली की जाएगी।

( Embezzlement of Rs 2 crore 90 Lakh in Electricity Department in Lucknow )

Read Also : JP Nadda said in Varanasi : कांग्रेस बनीं भाई-बहन की पार्टी

Read More : IIT Kanpur Professor Claims : 22 जून से कोरोना की चौथी लहर, अगस्त में आएगा पीक

Also Read : Covid 19 Vaccination In India विशेषज्ञों की राय पर निर्भर करेगा 15 तक की उम्र के बच्चों का टीकाकरण

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular