Monday, July 4, 2022
Homeउत्तर प्रदेशGau Rakshaks Attacked in Mathura : मथुरा में गोरक्षकों पर हमला, पुलिस-पीएसी...

Gau Rakshaks Attacked in Mathura : मथुरा में गोरक्षकों पर हमला, पुलिस-पीएसी तैनात

Gau Rakshaks Attacked in Mathura

इंडिया न्यूज, मथुरा : Gau Rakshaks Attacked in Mathura  मथुरा (Mathura) में रविवार सुबह 6:30 बजे के बाद गोरक्षा दल के कार्यकतार्ओं पर हमला होने के बाद मची भगदड़ से माहौल गर्मा गया। बाजार खुले ही थे कि धड़ाधड़ दुकानों के शटर गिरने लगे। इधर, गोरक्षा दल के कार्यकतार्ओं में उबाल आ गया तो दूसरी तरफ स्लॉटर हाउस की तरफ भी युवा की भीड़ बढ़ने लगी। माहौल गमार्ने से पहले कोतवाली, गोविंदनगर, रिफाइनरी, जमुनापार, सदर बाजार, हाईवे पुलिस को बुला लिया गया। इसके अलावा पीएसी के जवान भी मौके पर पहुंच गए। दोपहर 12:30 बजे बाजार में दुकानें के शटर खुले। सीओ सिटी अभिषेक तिवारी ने बताया कि माहौल शांत है। हमलावरों की गिरफ्तारी को दबिश दी जा रही हैं।

Also Read : Covid 19 Vaccination In India विशेषज्ञों की राय पर निर्भर करेगा 15 तक की उम्र के बच्चों का टीकाकरण

गोरक्षक घुसे घर में, बेटी का टूटा हाथ

कसाईपाड़ा की रेशमा का आरोप है कि उनके घर के दरवाजे का धक्का मारकर गोरक्षक दल के कार्यकर्ता घुसे थे। इसके कारण उनकी बेटी मंशता का हाथ टूट गया। गोरक्षक दल के 30-35 कार्यकतार्ओं ने महिलाओं से अभद्रता की और घर से सामान भी ले गए हैं। यह सभी हथियारों से लैस थे। वह घर में दुधारू पशुओं को खोलकर ले जाने लगे। विरोध करने पर अभद्रता करने लगे और अपशब्द भी बोले।

डायल 112 पौने घंटे बाद पहुंची

गोरक्षक दल के जिलाध्यक्ष रविकांत शर्मा ने बताया कि गोकशी की सूचना मिलने पर पुलिस अफसरों को सूचित कर दिया गया था। वहां पहुंचने पर डायल 112 पर सूचना दी, पर पौने घंटे बाद गाड़ी पहुंची, तब तक उन पर हमला हो गया। अगर पुलिस समय से पहुंच जाती तो कार्यकतार्ओं पर हमला नहीं होता। आरोप है कि पुलिस गोकशी रोक नहीं पा रही है। गोरक्षक रोकने पहुंच रहे हैं तो उनके साथ जाने से क्यों कतराती है।

गोरक्षकों ने युवक से की मारपीट

गोरक्षकों ने शुभान नाम के युवक से मारपीट कर डाली। कोतवाली पुलिस ने उसे छुड़ाकर अपने कब्जे में ले लिया। कोतवाल विजय कुमार सिंह ने बताया कि शुभान को तीन-चार थप्पड़ गोरक्षकों ने मार दिए थे। उसे पुलिस ने बचा लिया। इस मामले से उसका कुछ भी लेना-देना नहीं था। उसके घर में शादी है। उसे सकुशल घर भेज दिया गया।

Also Read : FIR on Rohtas Group in 9.15 crore Fraud : 9.15 करोड़ धोखाधड़ी में रोहतास ग्रुप पर एफआईआर

गोविंदनगर पुलिस ने तीन को था पकड़ा

 

गोविंदनगर पुलिस ने 18 फरवरी को मटियागेट से शारून को गिरफ्तार करते हुए गोवंश का 60 किलो मांस बरामद किया था। इसकी सूचना भी गोरक्षकों को लगी थी। हालांकि गोविंदनगर के प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार पांडेय इस मामले में तीन को गिरफ्तार करके जेल भेज चुके हैं। फिलहाल तीन की तलाश में गोविंदनगर पुलिस लगातार दबिश दे रही है।

Read More : IIT Kanpur Professor Claims : 22 जून से कोरोना की चौथी लहर, अगस्त में आएगा पीक

देवभूमि होने के बाद भी कट रहे गोवंश

अति संवेदनशील श्रीकृष्ण जन्मस्थान से चंद कदमों की दूरी पर गोवंश या फिर पशुओं का कटान रुका नहीं है। जबकि तीर्थस्थल घोषित होने के बाद भी लगातार कटान होने से पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करता है। आखिरकार पूरी तरह से इस कटान पर प्रतिबंध न लग पाना भी पुलिस की मिलीभगत को उजागर करता है।

Also Read : FIR on Rohtas Group in 9.15 crore Fraud : 9.15 करोड़ धोखाधड़ी में रोहतास ग्रुप पर एफआईआर

कोतवाली का घेराव कर लगाए नारे

पुलिस की भूमिका को संदिग्ध मानते हुए बजरंग दल, गोरक्षक और आरएसएस से जुड़े विभिन्न हिंदूवादी संगठनों के कार्यकतार्ओं ने कोतवाली पर प्रदर्शन किया, जिसमें पुलिस विरोधी नारे भी लगाए गए। आक्रोशित लोग उत्तेजक नारे लगा रहे थे। एसपी सिटी मार्तंड प्रकाश सिंह, सीओ सिटी अभिषेक तिवारी, कोतवाल विजय कुमार सिंह, गोविंदनगर एसएचओ संजय कुमार पांडेय और आसपास के थानों का पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गया।

Also Read : 95 Lakhs Caught with Charas in Agra : नेपाल-अफगानिस्तान चरस की तस्करी करने वाले तीन गिरफ्तार

Connect With Us : Twitter Facebook

 

SHARE
Ajay Dubey
India News Senior Sub Editor. Danik jagran & Amarujala as a City & Crime Reporter 15 Years.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular