Wednesday, September 28, 2022
Homeराष्ट्रीयपरीक्षा में बैठने के लिए छात्राओं को उतारना पड़ा इनरवियर, पुलिस ने...

परीक्षा में बैठने के लिए छात्राओं को उतारना पड़ा इनरवियर, पुलिस ने पांच आरोपी महिलाओं को किया गिरफ्तार

इंडिया न्यूज, कोल्लम (NEET UG 2022 Dress Code Controversy)। नीट यूजी 2022 के दौरान केरल में छात्राओं को अपने इनरवियर उतारकर परीक्षा में बैठना पड़ा। इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने पांच आरोपी महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार, आरोपी तीन महिलाएं एनटीए द्वारा किराए पर ली गई एक एजेंसी के लिए काम करती थीं, दो कोल्लम के अयूर में निजी शैक्षणिक संस्थान के लिए काम करती थीं, जहां यह घटना हुई थी। पुलिस ने कहा कि आईपीसी की धारा 354 और 509 को जोड़ा गया है।

लड़कों के सामने छात्राओं को होना पड़ा शर्मसार

स्नातक स्तरीय मेडिकल पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए रविवार, 17 जुलाई को आयोजित राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा यानी नीट यूजी के दौरान के केरल के एक परीक्षा केंद्र पर सैकड़ों छात्राओं के ब्रा और इनरवियर आदि जबरन उतरवाने का मामला सामने आया था। पुलिस ने एक 17 वर्षीय लड़की की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया था, जिसने आरोप लगाया था कि नीट परीक्षा में शामिल होने से पहले कर्मियों ने ब्रा के हुक के कारण मेटल डिटेक्टर की बीप बजने पर आपत्ति जताते हुए उसे उतारने के लिए मजूबर किया था।

सोशल मीडिया पर दिखा रोष

कई अन्य छात्राओं ने भी इसी तरह के आरोप लगाए हैं, हालांकि उन्होंने अलग से शिकायत दर्ज नहीं कराई है। महिला आयोग ने भी अपनी ओर से प्राप्त शिकायतों के आधार पर मामला दर्ज किया है। छात्राओं और परिजनों की शिकायत के बाद मामले ने काफी तूल पकड़ा और सोशल मीडिया के जरिए देश भर से लोगों ने भी इस शर्मनाक हरकत की निंदा करते हुए रोष जाहिर किया था। गिरफ्तारी 18 जुलाई को शुरू हुए विरोध प्रदर्शनों के बाद हुई। केरल के दक्षिणी क्षेत्र कोल्लम में मंगलवार को इस तरह के विरोध प्रदर्शन और हिंसक हो गए।

यह भी पढ़ेंः यूपी सरकार में भी खटपट की अफवाहें, दो मंत्रियों की नाराजगी के चर्चे जोरों पर

Connect With Us : Twitter | Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular