Tuesday, January 31, 2023
Homeउत्तर प्रदेशJoshimath Subsidence: अखिलेश का बीजेपी सरकार पर निशाना : "वैज्ञानिकों पर दबाव...

Joshimath Subsidence: अखिलेश का बीजेपी सरकार पर निशाना : “वैज्ञानिकों पर दबाव बना, जोशीमठ की दरारों को छिपा रही सरकार, EIA की रिपोर्ट हो सार्वजनिक”

जानकारी हो कि जोशीमठ में लगातार हो रहे भू-धंसाव के कारण लोगों को दूसरे जगहों पर जाना पड़ रहा है. जोशीमठ को लेकर केंद्र और राज्य सरकार सक्रिय है वही प्रभावितों को हर संभव मदद पहुंचाने का काम किया जा रहा है.

- Advertisement -

Joshimath Subsidence: एक ओर जोशीमठ ( Joshimath ) में लोगों के बचाव का कार्य चल रहा है. दूसरी ओर विपक्ष इसको लेकर सरकार पर निशाना साध रहा है. आज जोशीमठ को लेकर सपा प्रमुख (SP Chief ) ने भी सीएम धामी ( CM Dhami )  और उत्तराखंड की बीजेपी ( BJP ) सरकार को घेरा. सपा प्रमुख अखिलेश यादव ( Akhilesh Yadav ) ने आरोप लगाते हुए कहा कि जोशीमठ में हो रही विकास परियोजनाओं के लिए जो पर्यावरण प्रभाव आकलन किया गया है उसकी रिपोर्ट सामने आनी चाहिए.

सपा प्रमुख ने इस मामले को लेकर ट्वीट करते हुए लिखा कि “राजनीतिक प्रभाव से वैज्ञानिकों पर दबाव बनाकर, जोशीमठ की दरारों की सच्चाई छिपाने की भाजपा सरकार की कोशिश घोर निंदनीय है। लाखों लोगों की ज़िंदगी दांव पर लगी होने की वजह से ये बहुत गंभीर विषय है। जोशीमठ की परियोजनाओं के बारे में ‘पर्यावरण प्रभाव आकलन’ (EIA) की रिपोर्ट का खुलासा हो।”

जानकारी हो कि जोशीमठ में लगातार हो रहे भू-धंसाव के कारण लोगों को दूसरे जगहों पर जाना पड़ रहा है. जोशीमठ को लेकर केंद्र और राज्य सरकार सक्रिय है वही प्रभावितों को हर संभव मदद पहुंचाने का काम किया जा रहा है. इसी कड़ी में आज सीएम पुष्कर सिंह धामी  ( CM Pushkar Singh Dhami ) ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ( Amit Shah ) से मुलाकात की. ये बैठक करीब 1 घंटे तक चली.

जिसके बाद सीएम धामी ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि “हम जोशीमठ में स्थिति पर लगातार नजर रख रहे हैं। हम केंद्र सरकार से सभी आवश्यक सहयोग प्राप्त कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नियमित रूप से मामले की समीक्षा कर रहे हैं। पीएमओ की रिपोर्ट जल्द ही हमारे पास होगी और वहां के निवासियों के पुनर्वास की व्यवस्था की जाएगी।”

विपक्ष को सरकार का जवाब

जोशीमठ में हो रहे भू धंसाव को लेकर प्रदेश के विपक्ष के नेता लगतार सरकार द्वारा उठाए गए कदम पर सवाल उठा रहें हैं. विपक्ष का कहना है कि सरकार पूरे में जांच की और यहां हो रहे विकास परियोजनाओं की जानकारी नही दे रही है. ऐसे में सीएम धामी ने तमाम विपक्ष के लोगों को जवाब दिया है. सीएम धामी ने कहा है कि “यह एक प्राकृतिक आपदा है यह कोई राजनीतिक मामला नहीं है। सभी को आगे आना चाहिए और इसका समाधान खोजने में मदद करनी चाहिए। सीएम धामी ने कहा कि प्रदेश में 4 माह बाद चार धाम यात्रा होनी है। इसलिए उत्तराखंड के हालात को लेकर झूठी अफवाह फैलाना ठीक नहीं है। लोग दूर से स्थिति के बारे में धारणा न बनाएं।”

ये भी पढ़ें- Akhilesh In Telngana : तेलंगाना में बोले अखिलेश- बीजेपी के चल रहे आखिरी दिन, बनेगी नई सरकार

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular