Monday, July 4, 2022
Homeउत्तर प्रदेशMurder of Elderly Living in Hut for Years : कुटिया में वर्षों...

Murder of Elderly Living in Hut for Years : कुटिया में वर्षों से रह रहे बुजुर्ग की हत्या, जांच में जुटी पुलिस, लोगों से पूछताछ जारी

इंडिया न्यूज, वाराणसी।

Murder of Elderly Living in Hut for Years : वाराणसी के रोहनिया क्षेत्र स्थित मौनी बाबा की कुटिया पर करीब 20 वर्षों से रह रहे सूर्यबली यादव 65 (बाबा जी) की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। घटना की जानकारी लोगों को गुरुवार सुबह हुई। कुछ ग्रामीण सुबह-सुबह टहलने निकले लोग जब कान्हा उपवन के पास स्थित मौनी बाबा की कुटिया की तरफ आए तो खून से सना शव देखा। (Murder of Elderly Living in Hut for Years)

शोर मचाने के बाद मौके पर भीड़ लग गई। बाबा की हत्या की खबर से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लिया। इधर, मौके पर पहुंचे मृतक के परिजन और बड़ी संख्या में ग्रामीण भी पहुंचे। मृतक सूर्यबली यादव खनांव निवासी थे। वो बाबा की कुटिया पर ही रहते थे।

रात में कुटिया के अंदर आए थे कुछ लोग (Murder of Elderly Living in Hut for Years)

पुलिस की पूछताछ में पता चला कि बुधवार की देर रात रोजाना की तरह सूर्यबली यादव अपने कमरे में सोने चले गए। कुटिया में रह रहे लोगों के मुताबिक, रात नौ बजे के बाद कुटिया पर अक्सर आने वाला एक आदमी कुछ लोगों के साथ चबूतरे पर बैठा था। जिसे देख सूर्यबली अपने कमरे से बाहर निकले और चबूतरे पर बैठे लोगों को डांटने लगे। (Murder of Elderly Living in Hut for Years)

इसके कुछ देर बाद चिल्लाने की आवाज आई और कुछ ही देर बाद दो लोग गंगा किनारे की तरफ से भागने लगे। एक आदमी कान्हा उपवन गेट की तरफ से निकला। घटनास्थल पर जुटी भीड़ में लोगों ने बताया कि अक्सर यहां लोग आते हैं और शराब-गांजा इत्यादि का सेवन करते हैं।

नशेड़ियों का विरोध करते थे बाबा (Murder of Elderly Living in Hut for Years)

बाबा नशेड़ियों का विरोध भी करते रहते थे। घटनास्थल पर आश्रम के पास तीन महीने पहले जाली लगाकर बाउंड्री बनाई गई है। जिसमें दो गेट लगे हैं और ताला भी बंद है। हमलावर कैसे अंदर आए और कैसे बाहर गए इसकी पुलिस और घटनास्थल की फोरेंसिक टीम जांच कर रही है। (Murder of Elderly Living in Hut for Years)

कान्हा उपवन में लगे सीसीटीवी कैमरे को भी पुलिस खंगाल रही है। सूर्यबली छह भाइयों में पांचवे नंबर पर रहे। बड़े बेटे सुरेश ने बताया कि 20 साल से ज्यादा समय से आश्रम पर ही रहते थे और कभी कभी की आयोजन में ही घर जाते थे।

(Murder of Elderly Living in Hut for Years)

Also Read : Yogi will be Formally Elected Leader of Assembly Today : योगी की दुबारा ताजपोशी पर फैसला आज, डिप्टी सीएम पर सस्पेंस भी होगा खत्म

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular