Tuesday, May 24, 2022
HomeCoronavirusNational Vaccination Day 2022 : राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस 2022, रोग प्रतिरोधक क्षमता...

National Vaccination Day 2022 : राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस 2022, रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार का मंत्र

सत्यवान ‘सौरभ’

National Vaccination Day 2022 : टीका एक ऐसी जैविक तैयारी है जो किसी विशेष बीमारी के प्रति प्रतिरोधक क्षमता में सुधार करती है। एक टीके में आमतौर पर एक एजेंट होता है जो रोग पैदा करने वाले सूक्ष्मजीव जैसा दिखता है, और अक्सर सूक्ष्म जीव के कमजोर या मारे गए रूपों, इसके विषाक्त पदार्थों या इसकी सतह प्रोटीन में से एक से बना होता है। टीके प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए एक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम की तरह हैं। वे रोग के लक्षणों को उजागर किए बिना शरीर को रोग से लड़ने के लिए तैयार करते हैं।

टीकाकरण हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को दुरुस्त करता है (National Vaccination Day 2022)

टीकाकरण हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को नई बीमारियों को पहचानने का तरीका सिखाने का काम करता है। हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली विभिन्न प्रकार की कोशिकाओं से बनी होती है। ये कोशिकाएं आक्रमणकारियों से हमारी रक्षा करती हैं और हानिकारक रोगजनकों को हटाती हैं। टिके एंटीबॉडी का उत्पादन करते हैं। टिके रोगजनकों के प्रतिजनों के खिलाफ एंटीबॉडी बनाने के लिए हमारे शरीर को उत्तेजित करते हैं। यह प्रतिरक्षा प्रणाली को संक्रमण पैदा करने वाले प्रतिजनों को याद रखना भी सिखाता है, जिससे भविष्य में उसी बीमारी के लिए तेजी से प्रतिक्रिया होती है।

बीमारी से लड़ने की बढ़ती है क्षमता (National Vaccination Day 2022)

टीके किसी व्यक्ति को बीमारी से लड़ने में तैयार करने का काम करते हैं। जबकि शरीर टीके के प्रति प्रतिक्रिया करता है, यह एक अनुकूली प्रतिरक्षा प्रणाली बनाता है, जो शरीर को भविष्य में वास्तविक संक्रमण से लड़ने में मदद करता है। बीमारी के खतरे के बीत जाने के बाद, कई एंटीबॉडी टूट जाते हैं, लेकिन प्रतिरक्षा कोशिकाएं जिन्हें मेमोरी सेल कहा जाता है, शरीर में बनी रहती हैं। जब शरीर फिर से उस प्रतिजन का सामना करता है, तो स्मृति कोशिकाएं तेजी से एंटीबॉडी का उत्पादन करती हैं और हानिकारक सूक्ष्म जीवों को मार देती हैं।

हर साल दो-तीन मिलियन मौतों को रोकता है (National Vaccination Day 2022)

टीकाकरण हर साल दो से तीन मिलियन मौतों को रोकता है, यह आंकड़ा और 1.5 मिलियन तक बढ़ जाएगा यदि टीका कवरेज में आशातीत सुधार होता है। टीकाकरण बच्चों को गंभीर बीमारी और टीका-रोकथाम योग्य बीमारियों की जटिलताओं से बचाता है। 2017 में 2010 और 2014 के बीच फ्लू के मौसम को देखने वाले एक अध्ययन में पाया गया कि टीकाकरण से स्वस्थ बच्चों में फ्लू से होने वाली मौतों में 65% की कमी आई है। (यह लेखक के निजी विचार हैं)

(National Vaccination Day 2022)

Also Read : Karnataka High Court Decision on Hijab Controversy : हिजाब धर्म का अनिवार्य हिस्सा नहीं, कर्नाटक हाईकोर्ट ने सुनाया बड़ा फैसला  

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular