Friday, December 9, 2022
Homeउत्तर प्रदेशShraddha Murder Case: मौलाना तौकीर रजा ने आफताब के लिए मांगी तालिबानी...

Shraddha Murder Case: मौलाना तौकीर रजा ने आफताब के लिए मांगी तालिबानी सजा, बोले- ऐसे लोग मुस्लिमों के लिए भी गलत

- Advertisement -

Shraddha Murder Case

इंडिया न्यूज, बरेली (Uttar Pradesh) । आईएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रजा ने दिल्ली में लव जिहाद की शिकार हुई श्रद्धा मर्डर केस बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है की आफताब को हमारे हवाले कर देना चाहिए। आफताब को जमीन में आधा दबाकर फिर तब तक पत्थर मारते रहना चाहिए जब तक उसकी मौत ना हो जाए।

मौलाना तौकीर रजा ने कहा कि मेरी हुकूमत से मांग है की एक बार इस तरीके की सजा देकर देखें तो फिर ऐसे अपराधों पर रोक लगेगी। उन्होंने कहा कोई एक मर्डर करता है तो भी फांसी की सजा और कोई किसी के शरीर के 35 टुकड़े करता है तो भी फांसी की सजा यह गलत है। ऐसे अपराधियों को तो सरेआम जमीन में आधा दबा कर पत्थर मार मार कर मार डालना चाहिए।

श्रद्धा केस ने भारत को दुनिया में बदनाम किया
मौलाना तौकीर रजा ने कहा कि दिल्ली श्रद्धा मर्डर केस का जो मामला सामने आया है ये बहुत खतरनाक है। इस वारदात ने तो पूरे हिदुस्तान को पूरी दुनिया में बदनाम करने का काम किया है। ऐसा जघन्य अपराध इसके लिए लोग फाँसी की मांग कर रहे है मै कहता हूं एक क़त्ल करता है उसे भी फांसी है 10 कत्ल करता है उसे भी फांसी है चाकू मार देता है उसे भी फांसी है और 35 टुकड़े कर दे उसे भी फांसी ये मुझे लगता है अन्याय है। इस किस्म के अपराध अगर रोकने है तो मै सरकार से मांग करता हु ऐसे जघन्य अपराधी को जमीन में आधा दबाकर उसको जब तक पत्थर मारते रहना चाहिए जब तक उसकी मौत न हो जाए।

ये इंसानियत का कत्ल, बेटियों की हिफाजत होनी चाहिए
तौकीर रजा ने कहा कि उसने इंसानियत का कत्ल किया है। लड़की के परिवार के गम में मैं शरीक हु। ये जो मानसिकता है लव जिहाद वाली मैने पहले भी ये बात कही है हिन्दू समाज से भी कही है उन लोगो ने ये मुहीम चलाई थी दो लाख रुपए ईनाम दिया जाएगा जो मुसलमान लड़की लेकर आएगा। अगर तुम लड़की लेकर चले जाओगे तो हिन्दू लड़की क्या करेगी हिन्दू लड़की से तुम्हे शादी करनी चाहिए और मै उस मुसलमान लड़के से भी कहता हूं उसके परिवार से भी मैं कहता हु अगर ये हिन्दू लड़की ले आएगा तो हमारी बहन बेटियां तो घर में बैठी रह जाएगी। तो अपनी बेटियों को सियासत का शिकार नही बनाना चाहिए। अपनी बेटी की हिफाज़त करनी चाहिए।

लव जिहाद कोई नाम नहीं
लव जिहाद नाम का कोई काम नही है। कोई ऐसी तंजीम नही है जो इस किस्म की मुहिम चला रही है। पूरी जिम्मेदारी से कह रहा हूं कोई ऐसा मुसलमान हो ही नहीं सकता जो अपने बच्चो को ये ट्रेनिंग दे कि दूसरे के बच्चो को बहकाओ और उनके साथ जिनाकारी करो या बतकारी करो। हिंदू हो या मुसलमान दोनों जगह इस इंटरनेट युग में वक्त से पहले बच्चे जवान हो रहे है और इसको अब बुरा समझा नही जा रहा है।

वही मौलाना ने कहा की श्रद्धा का कत्ल पूरी प्लांनिग के साथ किया गया है। आज मुझे किसी ने बताया वो फ्रीज़ में उसके सर को कई कई घण्टे देखता था। इस किस्म का अपराध जो करते है हमारे यहां जिन्ना को सबसे बड़ा गुनहा माना गया है। इसमें एक ही सजा है उसको जमीन में आधा दबाकर पत्थरों से तब तक मारो जब तक उसकी मौत ना हो जाये।

मौलाना लिव इन रिलेशनशिप को गलत बताया
तौकीर रजा ने लिविंग रिलेशन को भी गलत बताया। बिना शादी के कोई भी किसी के साथ रह सकता है इसी वजह से ये अपराध बढ़ रहे है। हिन्दू लडक़ी हो या मुसलमान लड़की हो वो किसी के भी साथ अपनी मर्जी से अगर वो बालिग है तो हमारे घर के सामने रहना शुरू कर दे। हमारे लिए डूब कर मरने का मुक्काम है। हम कैसे बर्दास्त करेगे मेरी बेटी अगर ऐसा करती है। मै कैसे बर्दास्त करूँगा किसी हिन्दू की बेटी अगर ऐसा करती है तो वो कैसे बर्दाश्त करेगा। ये हिदुतानी सभयता नही है तो हमे हिन्दुतानी सभ्यता का खयाल रखना चाहिए।

यह भी पढ़ें: पीएफआई का सदस्य गिरफ्तार, युवाओं को कट्‌टर बना रहा था

Connect Us Facebook | Twitter

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular