Wednesday, September 28, 2022
Homeउत्तर प्रदेशखून से लिखा मां का ख्याल रखना, मैं जा रही हूं...छेड़छाड़ से...

खून से लिखा मां का ख्याल रखना, मैं जा रही हूं…छेड़छाड़ से परेशान इंटर की छात्रा ने दी जान

इंटर की छात्रा ने युवक की छेड़छाड़ से परेशान होकर फांसी लगाकर जान दे दी। बहन के नाम सोसाइट नोट छोड़ा। इसमें युवक के परेशान करने व मां का ख्याल रखने समेत कई बातें लिखी है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

इंडिया न्यूज, बांदा : Troubled by Molestation, Inter student gave her Life बांदा में गांव के युवक की हरकतों से आजिज आकर इंटर की छात्रा घर में फांसी लगाकर जान दे दी। शव के पास दो पृष्ठ (two Page)का सुसाइड नोट (Suicide note)मिला है। इसमें छात्रा ने एक युवक का नाम उजागर करते हुए उसकी हरकतों और ब्लैकमेलिंग (Blackmailing)से तंग आकर आत्महत्या करना बताया है। पुलिस पूरी घटना और सुसाइड नोट की जांच कर रही है। फिलहाल आरोपी युवक को गिरफ्तार नहीं किया गया है। घटना के बाद परिजनों में चीख-पुकार मच गई।

नायलॉन रस्सी से लगाई फांसी

घटना देहात कोतवाली क्षेत्र के करबई गांव की है। रोशनी (19) पुत्री रामप्रसाद गांव के ही इंटर कॉलेज में 12वीं की छात्रा थी। युवक की छेड़छाड़ से परेशान होकर रोशनी ने नायलॉन की रस्सी छत पर बांधकर फांसी लगा ली। कुछ देर बाद छोटे भाई ने दरवाजे खुलवाना चाहा तो बंद थे। आनन-फानन दरवाजा खोलकर देखा तो रोशनी फंदे पर लटकी थी। उसकी मौत हो चुकी थी। इसी बीच देहात कोतवाली पुलिस पहुंच गई। उप निरीक्षक भूपेंद्र सिंह ने कमरे की जांच-पड़ताल की तो दो पृष्ठीय सुसाइड नोट मिला।

कालेज आते-जाते करता था परेशान

मृतका के भाई ने बताया कि गांव का युवक रोशनी को कॉलेज आते-जाते समय परेशान करता था। मृतका रोशनी चार बहनों में सबसे छोटी थी। घटना के समय मां रिश्तेदारी में पलरा गांव गई हुई थी। क्षेत्राधिकारी नगर राकेश कुमार सिंह ने बताया कि सुसाइड नोट में युवक पर आरोप लगाया है। तहरीर लेकर मुकदमा दर्ज किया जाएगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का भी इंतजार है।

Also Read : चित्रकूट के अमरपुर में अछूत की बीमारी से बच्चों ने छोड़ी पढ़ाई, अन्य बच्चों का व्यवहार जानकर रह जाएंगे हैरान

सोसाइट नोट में ये लिखा 

Troubled by Molestation, Inter student gave her Life

गुड़िया मैं तुम्हारे पास आकर सबकुछ बताना चाहती थी। …मेरे साथ क्या कर रहा है। मुझे माफ कर देना। मैं तुमको छोड़कर जा रही हूं। मैंने सर को बताया था कि…मुझे ब्लैकमेल कर रहा है। पर मैं उनसे कैसे बताती कि मेरे साथ क्या हो रहा है। सर ने कभी मुझे गलत नहीं सिखाया। हमेशा अच्छा ही सिखाते थे। मैंने वैसा किया भी। मैं क्या करूं। मेरे पास दूसरा कोई रास्ता नहीं था मरने के अलावा। इसके अलावा सुसाइड नोट के अंत में बड़े अक्षरों में खून से लिखा-मां का ख्याल रखना।

मृतक करती रहीं बर्दाश्त, किसी को नहीं बताया Troubled by Molestation, Inter student gave her Life

 

सुसाइड नोट में गांव के युवक द्वारा परेशान किए जाने की बात के बारे में मृतका छात्रा के परिजनों का कहना है कि रोशनी ने युवक की हरकतों को बर्दाश्त किया। घर में भी नहीं बताया और न ही पुलिस से शिकायत की। काफी समय के बाद जब घरवालों को पता चला तो युवक को सुधर जाने की हिदायत दी लेकिन फिर भी वह नहीं माना। यह बात मृतका के भाई ने भी स्वीकारी है।

Also Read : एक लाख खर्च कर युवक ने रचाई शादी, दुल्हन को ले गई बंगाल पुलिस

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
Ajay Dubey
Ajay Dubey
India News Senior Sub Editor. Danik jagran & Amarujala as a City & Crime Reporter 15 Years.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular