Saturday, December 3, 2022
Homeउत्तर प्रदेशUttar Pradesh: फतेहपुर में धर्मांतरण पर बड़ा खुलासा, 10 हजार लोग क्रिश्चियन...

Uttar Pradesh: फतेहपुर में धर्मांतरण पर बड़ा खुलासा, 10 हजार लोग क्रिश्चियन बने, अब फंडिंग का ब्योरा जुटाने में लगी पुलिस

- Advertisement -

Uttar Pradesh

इंडिया न्यूज, फतेहपुर (Uttar Pradesh)। यूपी के फतेहपुर में धर्मांतरण का बड़ा मामला सामने आया है। हिन्दू संगठनों का आरोप है कि लगभग दस हजार लोगों का धर्मान्तरण कराया गया है। पिछले 2 सालों में 8 मुकदमे दर्ज हुए हैं। ताजा मामला सदर कोतवाली क्षेत्र का है, जहां विश्व हिन्दू परिषद की शिकायत पर पुलिस ने 55 लोगो पर मुकदमा दर्ज किया है और अब तक पादरी सहित 14 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। आरोप है कि वर्ल्ड विजन नाम की विदेशी संस्था वेलफेयर के नाम पर गरीब परिवारों को निशाना बनाकर उनकी मदद करने के नाम पर उनका धर्मान्तरण करा देती है।

पहला मामला 2014 में आया था सामने
जनपद में धर्मान्तरण का सबसे पहला मामला 2014 चुनाव के पहले आया था। जहां थरियांव थाना क्षेत्र के टीसी गांव में वर्ल्ड विजन संस्था पर कई परिवारों के धर्म परिवर्तन का आरोप है। एक भाजपा कार्यकर्ता का कहना है कि संस्था के कर्मचारियों द्वारा कई ग्रामीण परिवारों को बकरी,बक्शा,बखारी आदि देने का काम किया जाता था। साथ ही धर्मान्तरण करने में 1500 रुपए पर व्यक्ति व एक महीने में 10 लोगों का टारगेट दिया जाता था। लोगों को नदी में स्नान कराकर हिन्दू देवी देवताओं की तस्वीरें, मुर्तिया नदी में फेकवाई जाती थी और बाइबल देकर उन्हें कहा जाता था कि आपका पुनर्जन्म हुआ है और आज से आप प्रभु यीशु के हो गए हो। जिसमें साध्वी निरंजन ज्योति ने 40 लोगो की घर वापसी भी कराई थी।

चर्च की आड़ में चल रहा धर्मांतरण
अभी ताजा मामला थाना कोतवाली क्षेत्र का है। जहां विश्व हिन्दू परिषद के पदाधिकारियों ने शिकायत की थी कि इवेजिलिकल चर्च ऑफ इंडिया, फतेहपुर में प्रार्थना सभा की आड़ में धर्म परिवर्तन का काम चल रहा है। जिसमें चर्च के पादरी समेत मिशन अस्पताल के कई स्टाफ शामिल है। विहिप व बजरंग दल का कहना है जनपद में यह खेल काफी समय से चल रहा है। एक दूसरे मामले में भी मुकदमा हुआ है। जहां एक रजिस्टर बरामद हुआ है, जिसमें 1500 से ज्यादा लोगो के नाम है। वर्ल्ड विजन संस्था, मिशन अस्पताल, चर्च के लोग भोले भाले गरीब लोगो को धन, रोजगार, सिलाई मशीन, सोलर आदि देकर धर्मान्तरण का काम करती हैं। जिसमे हाल में ही प्रार्थना सभा के नाम से धर्मान्तरण हो रहा था। जिसमें 55 लोगो पर मुकदमा हुआ है। दावा है की धर्मान्तरण हो चुके लोगो की संख्या क़रीब दस हजार हैं।

सामूहिक धर्मांतरण के मामले में यूपी एटीएस की टीम ने फतेहपुर में पहुंचकर दस्तावेज खंगाले हैं और फंडिंग के मामले की जांच शुरू की है, इस तरीके धर्मांतरण के पीछे मिशन हॉस्पिटल का नाम सामने आया है उसके बाद एटीएस की टीम में आरोपियों के बैंक खातों का भी सत्यापन कराना शुरू किया है वहीं सनसनीखेज धर्मांतरण के मामले के बाद जिले का गोपनीय विभाग भी सक्रिय हो गया है। पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह ने कहा कि मामले की जांच चल रही है। फंडिंग का ब्यौरा भी जुटाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: माचिस जलाते ही फट गया गैस सिलेंडर, मां-बेटे जिंदा जले, एक गलती पड़ गई भारी

यह भी पढ़ें: चारबाग से वाया पुराने लखनऊ बसंतकुंज तक चलेगी मेट्रो, 9 KM तक रहेगी अंडरग्राउंड

यह भी पढ़ें: मायावती ने भाजपा-सपा पर साधा निशाना, बोलीं- बसपा का शासन रहा दोनों पार्टियों से बेहतर

Connect Us Facebook | Twitter

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular