Sunday, October 2, 2022
Homeउत्तर प्रदेशयूपी के सीएम योगी का असली नाम क्या, यह पूछने वाले पर...

यूपी के सीएम योगी का असली नाम क्या, यह पूछने वाले पर हाईकोर्ट ने ठोक दिया जुर्माना

इंडिया न्यूज, प्रयागराज।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ जनहित याचिका दायर करने वाले पर एक लाख का जुर्माना लगाया है। याचिका भी खारिज कर दी। कोर्ट ने कहा है कि याची को छह हफ्ते के भीतर जुर्माने की राशि जमा करनी होगी। ये रकम प्रयागराज के जवाहरलाल नेहरू रोड के विकलांग आश्रम में जमा की जाएगी।

नाम को लेकर संशय के मुद्दे पर दायर की थी याचिका

यह आदेश मुख्य न्यायमूर्ति राजेश बिंदल और न्यायमूर्ति पीयूष अग्रवाल की खंडपीठ ने दिल्ली के नमहा की ओर से दाखिल जनहित याचिका को खारिज करते हुए दिया है। याचिका में मांग की गई थी कि यूपी में सीएम योगी आदित्यनाथ के कई नाम लिखे जाते हैं। प्रदेश की 32 करोड़ की जनता में संशय रहता है।

चुनाव के दौरान भी अलग-अलग नाम

चुनाव में नामांकन के समय आदित्यनाथ पुत्र अवैद्यनाथ लिखा गया, जबकि मुख्य सचिव के ट्विटर हैंडल पर महंत योगी आदित्यनाथ जी महाराज लिखा गया है। कहा गया कि कहीं अजय सिंह बिष्ट तो कहीं आदित्यनाथ योगी, इस प्रकार कई नामों की वजह से जनता के बीच नामों को लेकर दुविधा की स्थिति बनी रहती है। मांग थी कि हाईकोर्ट यूपी सरकार को सही नाम लिखने का निर्देश जारी करे।

सस्ती लोकप्रियता के लिए दाखिल की हुई याचिका

सरकारी अधिवक्ता की तरफ से कहा गया कि जनहित याचिका बेमतलब है। बहस की गई कि आदित्यनाथ को निजी तौर पर पक्षकार बनाया गया है। इस कारण जनहित याचिका पोषणीय नहीं है। इसके अलावा यह भी कहा गया कि याची ने हाईकोर्ट रूल्स के मुताबिक अपनी पहचान स्पष्ट नहीं की है। इस कारण भी याचिका खारिज किए जाने योग्य है।

ये भी पढ़ेंः आजम खां से मिले कांग्रेस नेता प्रमोद कृष्णम, सपा नेता से जेल में मुलाकातों का दौर जारी

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular