Thursday, February 9, 2023
Homeउत्तर प्रदेशयोगी सरकार के बजट में किसे क्या मिला, आसान शब्दों में समझें

योगी सरकार के बजट में किसे क्या मिला, आसान शब्दों में समझें

- Advertisement -

इंडिया न्यूज, लखनऊ (UP Budget 2022)। योगी सरकार ने गुरुवार को अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश किया। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने विधानसभा में राज्य के लिए 6 लाख 15 हजार 518 करोड़ का बजट प्रस्तावित किया। इस दौरान वित्त मंत्री ने जनता के लिए तमाम योजनाओं की घोषणा की। बजट में स्वास्थ्य सुविधाओं से लेकर जिलों में उत्पादों को बढ़ावा देने, फिल्म सिटी की स्थापना करने, मुफ्त गैस कनेक्शन, गरीबों को फ्री राशन और किसानों को आर्थिक सहायता जैसी तमाम घोषणाएं की।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के लिए

दस्तक कार्यक्रम सरकार के प्रमुख कार्यक्रमों में से एक है। फलतः एईएस/जेई से प्रभावित सभी क्षेत्रों में बच्चों की मृत्यु में बड़ी कमी आई है। सिक एण्ड न्यूबॉर्न करते हुये सरकार अधिक बच्चों की केयर यूनिट्स के विस्तार पर ध्यान केन्द्रित कर बीते 5 वर्षों में प्रति वर्ष एक लाख मृत्यु को रोका है। कुपोषण दूर करने पर भी ध्यान दे रही है। 203 ब्लॉक स्तरीय केंद्रों को बढ़ावा देकर पुनर्वास केंद्रों को जिलों से ब्लॉक तक ले जाने के लिये बजटीय प्रावधान किया जा रहे हैं। कोरोना के कारण अनाथ बच्चों के भरण-पोषण, शिक्षा, चिकित्सा आदि की जा रही है।

वाराणसी और गोरखपुर को मेट्रो की सौगात

वाराणसी और गोरखपुर में मेट्रो रेल शुरू करने के लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही  पुलिस के आवासीय भवनों के लिए 800 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। सुरेश खन्ना ने कहा कि 2022-23 में 15 हजार सोलर पंपों की स्थापना होगी। लघु सिंचाई के लिए 1 हजार करोड़ रुपये। सभी 1535 थानों पर महिला वीट का गठन किया गया। प्रदेश के समस्त जनपदों में जनपद स्तर पर साइबर हेल्प डेस्क स्थापना की जा रही है। महिला सामर्थ्य योजना के लिए 72 करोड़ 50 लाख रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित की गई है।

किसानों को 42 हजार 565 करोड़ ट्रांसफर किए

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना दिसम्बर 2018 से संचालित है। 2.55 करोड़ किसानों के बैंक खातों में डीबीटी के माध्मय से 42 हजार 565 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए गए। मुख्यमंत्री किसान दुर्घटना कल्याण योजना 14 सितम्बर 2019 से लागू की गई है। प्रदेश सरकार द्वारा किसानों को पर्याप्त मात्रा में उर्वरकों की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जा रही है। वर्ष 2021 2022 में 99.80 लाख मीट्रिक टन उर्वरक का वितरण किया गया है। वर्ष 2022-2023 में 119.30 लाख मीट्रिक टन उर्वरक वितरण का लक्ष्य है। बाबू जी कल्याण सिंह स्ट्रीट लाइट योजना शुरू होगी। निराश्रित महिला पेंशन बढ़ाकर 1000 रुपये की गई।

बिजली में रीवैम्प के लिए 31 हजार करोड़

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे, डिफेंस कॉरिडोर के किनारे विकास कार्य होंगे। बिजली में रीवैम्प के लिए 31 हजार करोड़ का बजट रखा गया है। वृद्धावस्था पेंशन 500 से बढ़ाकर 1000 की गई है। 14 मेडिकल कॉलेजों को 2100 करोड़ का बजट रखा गया है। मेरठ-प्रयागराज गंगा एक्सप्रेस-वे के लिए 695 करोड़ का बजट है। पीडब्लूडी की सड़कों के लिए 18500 करोड़ का बजट रखा गया है। काशी विश्वनाथ राजघाट पुल के लिए 500 करोड़ के बजट की व्यवस्था रखी गई है। बाढ़ नियंत्रण के लिए 2700 करोड़ का बजट रखा गया है। नमामि गंगे में जल जीवन मिशन को 19500 करोड़ का बजट प्रस्तावित है।

यह भी पढ़ेंः वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने पेश किया यूपी का बजट

Connect With Us : Twitter | Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular